how to increase milk supply

कैसे बढ़ाए स्तन दूध उत्पादन | Maa Ka Doodh Badhane Ke Upay In Hindi

माँ का दूध बढ़ाने के तरीके

माँ बनने के बाद आपके ऊपर काफ़ी जिम्मेदारियाँ आ जाती है जैसे की नवजात शिशु का विकास काअच्छे से ध्यान रखना, उसे सही पोषण देना और इस बात का ध्यान रखना की शिशु स्वस्थ है। दूध के गुण तो हमने बहुत बार सुने ही है | एक शिशु के स्वस्थ होने का सबसे बड़ा कारण होता है माँ का दूध जिसने कई पोषक तत्व होते है जिनसे बच्चे की प्रतिरक्षा प्रणाली (इम्यून सिस्टम) प्रबल होती है और शिशु स्वस्थ रहता है। इसीलिए हर माँ कोशिश करती है की वो अपने शिशु को जितना हो सके मां का दूध पिलाए लेकिन कुछ माएँ ज़्यादा दूध नहीं पिला पाती क्यूँकि उनका स्तन दूध उत्पादन काम होता है।  और अक्सर उन्हें ये सवाल करती हैं How to increase breast milk Supply Fast.

वैसे आज कल मार्किट में बहुत से दूध बढाने की दवा मिलने लगी पर जितना हो सकते इंसान को घरेलु चीजों का इस्तेमाल करना सही रहता है । इसीलिए आज हम आपको कुछ , माँ का दूध बढ़ाने के तरीके के बारे में बताएँगे , जिन्हें खाने से स्तन दूध उत्पादन बड़ सकता है।

ये भी पढ़े : कैसे पिलाएं बच्चे को दूध

माँ का दूध बढ़ाने के उपाय | Food to Increase breast milk

ज़ीरा

हर घर में पाए जाने वाला ज़ीरा आपके स्तन दूध उत्पादन को बढ़ा सकता है। कई माएँ इस नुस्ख़े को अपना चुकी है और संतुष्ट भी हुई है। ज़्यादातर दाल और सब्ज़ियों में तो यह डलता ही है लेकिन आप इसे भून कर पीस ले और इसे अपनी सब्ज़ी या दही के ऊपर डाल कर भी खा सकती है। रोज़ के खाने में अगर आप जीरे की मात्रा थोड़ी बड़ा देंगी तो आपको बहुत फ़ायदा होगा।

ये भी पढ़े:  भूलकर भी न खाये ये 10 चीजे अगर आप भी करवाती है स्तनपान

मेथी दाना

मेथी दाना पुराने ज़माने में महिलायें लिया करती थी और आज भी हमारी दादी-नानी मेथी दाना खाने के लिए कहेंगी क्यूँकि इसमें प्रोटीन, आइरन और विटामिन सी॰ पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध है। आप मेथी दाना से बनी चाय भी पी सकती है, अपने खाने में इसका प्रयोग करे। आप चाहे तो मेथी दाना को रात को सात से आठ घंटे के लिए भिगो के रखे और सुबह ख़ाली पेट उस पानी को पिए। आप मेथी लड्डू भी खाना चाहे तो खा सकती है। (अगर आपको अस्थमा या ऐलर्जी है तो मेथी दाना का ध्यान से उपयोग करे)

सौफ

सौफ आपकी पाचन क्षमता को बढ़ाती है और गैस को खतम करती है। सौफ स्तन दूध उत्पादन को बढ़ाती है। खाने के बाद आप सौफ को थोड़ी मिशरी के साथ मिला का खा सकती है या अपनी मनपसंद मिठाई के ऊपर भी सौफ डाल कर खा सकती है।

अजवाइन

हम सब जानते है की अजवाइन पेट के लिए बहुत फ़ायदेमंद है और साथ ही स्तन दूध उत्पादन के लिए भी उतनी ही अच्छी है। अजवाइन के सेवन से गैस और क़ब्ज़ नहीं होती। अजवाइन को आपने अपने रोज़ के खाने में और अपनी रोटी या पराँठे में भी डाल कर खा सकती है। सादा पानी पीने की बजाय आप अजवाइन का पानी भी पी सकती है, अजवाइन को पानी में उबाल ले और फिर उसे छान का पिए।

तिल

तिल में काफ़ी मात्रा में कैल्सीयम
पाया जाता है और यह कैल्सीयम दूध पिलाने वाली माँ के लिए काफ़ी ज़रूरी है। इससे आपके शिशु का भी अच्छा विकास होगा इसीलिए काफ़ी महिलायें तिल को अपने खाने में उपयोग करती है। आप तिल के लड्डू खा सकती है या फिर तिल चावल, बिरयानी या फिर दाल में भी डाल कर खाए जा सकते है।

ये भी पढ़े:  बच्चों की खाने की हेल्दी हैबिट्स कैसे बनाये

दालें

हम सब जानते है की दालों में प्रोटीन भरपूर मात्रा में मोजूद होता है। दालें प्रोटीन के उत्तम स्त्रोत होने के साथ साथ फ़ाइबर और आइअर्न में भी काफ़ी भरपूर है इसीलिए यह स्तन दूध बढ़ाने में सहायक है।

लौकी/घिया

लौकी में काफ़ी पोषक तत्व उपलब्ध होते है इसीलिए नई माँ के लिए यह काफ़ी फ़ायदेमंद है। आप लौकी की सब्ज़ी या लौकी का जूस भी पी सकती है।

खजूर

खजूर में कैल्सीयम और आइअर्न भरपूर मात्रा में होता है जिससे स्तन दूध उत्पादन बढ़ता है। खजूर में पटैसीयम और फ़ाइबर भी अधिक मात्रा में होता है जो एक नई माँ के लिए बहुत महत्वपूर्ण है।

बादाम/काजू/सूखा मेवा

काजू बादाम में अच्छी मात्रा में मिनरल्ज़, कैलरीज़ और वायटमिंज़ उपलब्ध होते है जिनसे आपको आंतरिक शक्ति मिलती है और स्तन दूध भी बढ़ता है।

इन सब के अलावा हरी सब्ज़ियाँ जैसे पालक, मेथी, सरसों का साग और बथुआ भी स्तन दूध बढ़ाने में उत्तम है। रोज़ाना गाए के दूध का सेवन और दही पनीर खाना भी काफ़ी फ़ायदेमंद है, इसके साथ साथ अंडे भी प्रोटीन से भरपूर होते है जिससे स्तन दूध उत्पादन बढ़ेगा। एक नई माँ को हर तरह से अच्छा खाना चाहिए जिसने पोशाक तत्व भरपूर हो। यह सब आपकी स्तन दूध बढ़ाने में सहायता करेंगे।

0 Shares

Leave a comment