music during pregnancy

जानिए प्रेगनेंसी में संगीत सुनने के फायदे

Contents hide

संगीत और आपकी गर्भावस्था – Music and pregnancy

सामन्यत ऐसा कहा जाता है की संगीत में घाव उपचार करने की क्षमता होती है और संगीत हमारे तनाव को कम करके हमारे मूड को बेहतर बनाने में मदद करता है। संगीत हमारे मन और आत्मा पर गहरा असर डालता है। जब आपका बच्चा गर्भ में होता है, तब बच्चे के विकास और वृद्धि के लिए अंदर बहुत कुछ चल रहा होता है। आपका अजन्मा बच्चा संगीत के माध्यम से बाहरी दुनिया से जन्म से पहले ही परिचित हो जाता है और संगीत बच्चे को भविष्य में होने वाले सभी अनुभव के लिए आकार देता है।

संगीत को अपनी गर्भावस्था का हिस्सा बनाएं – Music During Pregnancy

गर्भावस्था के दौरान जब आप अपना पसंदीदा गाना या संगीत सुनते हैं तब अपने अजन्मे बच्चे के साथ जीवन भर रहने वाला एक खास बंधन बनाते हैं। यदि आप संगीत के शौकीन है और संगीत सीखना चाहते हैं, लेकिन समय के अभाव के कारण ऐसा नहीं कर पाए तो आप अपने वह शौक गर्भावस्था के दौरान पूरा कर सकते है।

गर्भ में बच्चे कब संगीत सुन सकते हैं – Songs for unborn babies?

Music During Pregnancy
baby listen to music

अजन्मे बच्चे दूसरी तिमाही में संगीत सुन सकते हैं लेकिन इस संगीत पर Respond केवल तीसरी तिमाही में देना शुरू करते हैं। गर्भावस्था के नौ सप्ताह के बाद शिशु के कान का गठन होना शुरू होता है। गर्भावस्था के अठारह सप्ताह तक, बच्चे सुनना शुरू कर देते हैं, और आवाज़ के प्रति उनकी संवेदनशीलता दिन प्रतिदिन बेहतर होने लगती है। जब आप लगभग 25 से 26 सप्ताह की गर्भवती होती हैं, तो शिशु बाहरी शोर और आवाज़ का जवाब देना शुरू कर देता है। तीसरी तिमाही तक आते आते आपका शिशु आपकी आवाज़ से इतना परिचित हो जाता है कि वह उसे तुरंत पहचान लेता है।

ये भी पढ़े:  गर्भावस्था के पहले महीने के दौरान कोन सी सावधानिया बरते ?

आपको गर्भावस्था में कितना संगीत सुनना चाहिए ?

जब प्रेगनेंसी में संगीत (Music During Pregnancy) की बात आती है तो आपको कुछ बाते ध्यान रकने योग्य है। संगीत का आनंद लेते समय यह सुनिश्चित अवशय करें कि आप एक दिन में एक या दो घंटे से अधिक हेडफ़ोन का उपयोग न करे। और यदि आप हेडफ़ोन को अपने पेट पर रखना पसंद करती है, तो केवल एक बार में पांच से दस मिनट के लिए ऐसा करना ठीक है या दिन भर में एक घंटे के लिए और उससे अधिक के लिए नहीं।यह भी याद रखना महत्वपूर्ण है कि आपके बच्चे को नियमित अंतराल पर सोने और आराम करने की जरुरत होती है इसलिए बहुत देर तक संगीत सुनने से आप अपने बच्चे के सोने के पैटर्न में खुद ही रुकावट पैदा कर सकते हैं।

गर्भावस्था के दौरान संगीत सुनने के क्या लाभ हैं – Benefit Of Music During Pregnancy ?

गर्भावस्था में संगीत सुनने से न केवल आप पर बल्कि आपके अजन्मे बच्चे पर भी सकारात्मक प्रभाव पड़ेगा। संगीत सुनने से आप अपना तनाव और चिंता आसानी से कम कर पाएंगे। इस लेख के माध्यम से आज हम प्रेगनेंसी में संगीत सुनने से आपके अजन्मे बच्चे और आपकी की गर्भावस्था पर पड़ने वाले प्रभावों के बारे में बात करेंगे।

How Music for Pregnant Ladies affect baby in womb

  • अजन्मे बच्चे की सजगता और प्रतिक्रियाओं में सुधार
  • अजन्मे शिशु के सुनने संबंधी क्षमताओं में सुधार
  • गर्भावस्था के तनाव के स्तर को कम करने में मददगार
  • अजन्मे बच्चे के साथ बंधन को मजबूत करने में मददगार
  • संगीत भ्रूण के मस्तिष्क के विकास में मदद कर सकता है
ये भी पढ़े:  स्तनपान छुड़वाने के तरीके | Breastfeeding Weaning Tips

अजन्मे बच्चे की सजगता और प्रतिक्रियाओं में सुधार

संगीत आपके अजन्मे बच्चे  की सजगता और प्रतिक्रियाओं में सुधार करने में मदत करता है। गर्भावस्था के दौरान जब आप संगीत ( सुनती है, तो आपके गर्भ में पल रहा शिशु उस कंपन सुन सकता है और शिशु उस पर प्रतिक्रिया देना शुरू करता है।

अजन्मे शिशु के सुनने संबंधी क्षमताओं में सुधार

संभव है कि आपका अजन्मा बच्चा गर्भ में संगीत को समझने में सक्षम न हो पर फिर भी बच्चा इन ध्वनियों पर ध्यान केंद्रित करने की कोशिश करेगा और ऐसा करने से उसकी एकाग्रता, सुनने की इंद्रियों और कौशल में सुधार करेगा।

गर्भावस्था के तनाव के स्तर को कम करने में मदतगार

गर्भावस्था में संगीत सुनना तनाव और चिंता को कम करता है। कई गर्भवती माताओं के लिए गर्भावस्था काफी तनाव भरी होती है। कई बार महिला को गर्भावस्था में कब्ज, उलटी और अनिंद्रा जैसे लक्षणों से गुजरना पड़ता है जिसका उनके मन और शरीर पर नकारत्मक प्रभाव पड़ता है। ऐसे में उपयुक्त संगीत सुनना तनाव और चिंता को कम करने का एक सरल व प्रभावी तरीका है। संगीत आपके उत्तेजित मन को शांत करता है और एक अनोखे तरीके से आपकी इंद्रियों को शांत करता है।

ये भी पढ़े गर्भावस्था में कब्ज के उपाय

अजन्मे बच्चे के साथ बंधन को मजबूत करने में मदतगार

संगीत माँ को अपने अजन्मे बच्चे के साथ संबंध बनाने और इन सम्बन्धो को मजबूत करने का एक शानदार तरीका है। जन्म से पहले बच्चे के साथ बात करने के लिए एक माँ या तो बोल के या गा के ही बच्चे से बात करती है। अजन्मे बच्चे के लिए संगीत (music for unborn baby), बोलने से ज्यादा फायदेमंद है क्योंकि गाने की आवाज में बोलने की आवाज़ की तुलना में अधिक आवृत्ति होती है। एक माँ की आवाज़ भ्रूण द्वारा अधिक स्पष्ट रूप से सुनी जाती है, क्योंकि अन्य बाहरी आवाज़ों में रूकावट या डिस्टॉरशन हो सकता है।

संगीत भ्रूण के मस्तिष्क के विकास में मदद कर सकता है

मस्तिष्क के विकास में संगीत के प्रभाव पड़ता है। गर्भ में पल रहा शिशु ध्वनि को सुन सकता है और उस पर प्रतिक्रिया कर सकता हैं। संगीत सुनने से शिशु की एकाग्रता और कौशल में सुधार होगा। वैसे तो गर्भावस्था में संगीत के लाभ अपने पढ़ ही लिए होंगे लेकिन गर्भावस्था में संगीत सुनने से पहले आपको कुछ सावधानी जरूर बरतनी चाहिए।

ये भी पढ़े:  गर्भावस्था के टिप्स | Tips For Healthy Pregnancy

सावधानियां – Precautions  For music during pregnancy

  • संगीत केवल इसलिए न सुनें क्योंकि यह आपके और आपके होने वाले बच्चे के लिए अच्छा है। इसके बजाय संगीत की भावनाओं को महसूस करे। यदि आप संगीत सुन कर सुकून महसूस करते हैं, तो संभव है कि आपके गर्भ में पल रहा शिशु भी सुकून महसूस करे।
  • तेज volume पर संगीत न सुने। ऐसा नहीं है कि गर्भ में पल रहा शिशु धीमी आवाज़ में संगीत नहीं सुन सकता है। जब आप संगीत सुन रहे हों, तो यह अवशय सुनिश्चित करें कि वॉल्यूम 65 डेसिबल से अधिक न हो और अगर आप लंबे समय तक संगीत सुनने जा रहे हैं, तो वॉल्यूम को 50 डेसिबल से कम या उससे कम ही रखें।
  • गर्भावस्था में आपको अराजक या परेशान करने वाले संगीत से बचना चाहिए ऐसा संगीत सुने जो आपको रिलैक्स करे सोच समझ कर ही गानो या संगीत का चयन करे अराजक और कलहपूर्ण संगीत शिशु के मस्तिष्क पर नकारात्मक प्रभाव डला सकता है। रैप या हार्ड रॉक गीतों की बजाय नरम और मधुर संगीत सुनना बेहतर होगा।
  • गर्भ में पल रहे शिशु को बहार की आवाज़े विशेष रूप से माँ की आवाज शरीर के माध्यम से जाती है। जैसा कि माँ बात करती हैं या गाती हैं आपकी आवाज आपके शरीर के अंदर कंपन पहले से और बढ़ जाती है। इसीलिए पेट पर इयरफ़ोन नही लगाए।
  • लगातार अधिक देर तक संगीत सुनने से आप खुद ही अपने बच्चे के सोने के पैटर्न में खुद ही रुकावट पैदा करने का कारण बन सकती है। संगीत सुनते हुए यह अवश्य ध्यान रेक की आपके बच्चे को नियमित अंतराल पर सोने और आराम करने की जरुरत होती है।

 

Leave a Comment