गर्भावस्था में सर दर्द

कैसे ठीक करे गर्भावस्था में सर दर्द की समस्या

सिर दर्द भले ही छोटी सी बीमारी लगती है लेकिन तकलीफ बहुत देती है और कई बार तो यह बीमारी भयंकर रूप ले लेती है। लेकिन जब यही सिर दर्द प्रेगनेंसी के दौरान होता है तो बहुत असहनीय होता है। मानो ऐसा लगता है जैसे सिर फटने वाला है। सामान्य तौर पर तो सिर दर्द की दवाई लेकर उसे सही किया जा सकता है लेकिन गर्भावस्था के दौरान ज्यादा दवाई लेने की मनाई होती है।

ऐसे में अगर सिर दर्द होता है तो कुछ बचाव के तरीके अपनाकर आप सिर दर्द को ठीक कर सकती है। आज की इस पोस्ट में हम आपको गर्भावस्था के दौरान सिर दर्द होने के कारण और बचाव के उपाय के बारे में बताएँगे.

गर्भावस्था में सिर दर्द होने के कारण

  • ब्लड प्रेशर बढ़ने और घटने की वजह से
  • नींद की कमी से
  • देर तक भूखा रहने से
  • तनाव की वजह से
  • माइग्रेन की वजह से
  • ज्यादा कैफीन युक्त पदार्थों के सेवन से
  • थकान होने की वजह से
  • शरीर में पानी की कमी से
  • जुकाम या नाक बंद होने की वजह से

गर्भावस्था में सिर दर्द का इलाज

एक्युप्रेशर 

इसमें शरीर के उन बिन्दुओं को दबाकर उतेजित किया जाता है जिससे सिर दर्द कम हो जाता है। एक्युप्रेशर को सिर दर्द और माइग्रेन दोनों के लिए अच्छा माना जाता है।

ये भी पढ़े:  क्या होते है गर्भावस्था के शुरुआती लक्षण? उलटी कब्ज़ या कुछ और

होम्योपैथी 

जब सिर दर्द हल्का हो तो होम्योपैथी की विधि को अपनाया जा सकता है।

ओस्टियोपैथी

कई बार सिर दर्द कंधे या गर्दन के दर्द के कारण भी होता है तो ऐसे में ओस्टियोपैथी की विधि को अपनाया जाता है। इसमें शरीर के तनाव बिन्दुओं को संगठीत किया जाता है जिससे सिर दर्द कम हो जाता है।

भाप लेना

गर्म पानी की भाप लेना भी सिर दर्द कम करने का अच्छा उपाय है। इससे बंद नाक में भी आराम मिलता है और साइनस में भी आराम मिलता है।

मसाज

आप कंधे, पीठ और सिर पर मसाज करवा सकते है लेकिन मसाज किसी पेशेवर जानकार से ही कराना चाहिए जिसे गर्भवती महिलाओं को मालिश करने का अनुभव हो। मालिश को शोध में भी अच्छा उपाय बताया गया है।

स्नान

अगर आप ठंडे पानी से स्नान करती है तो आपको सिर दर्द से आराम मिल सकता है। चेहरे पर ठंडे पानी की बुँदे तनाव को कम करती है जिससे भी सिर दर्द में आराम मिलता है।

सिर दर्द को कम करने के घरेलू उपाय

  • एक कप दूध में दालचीनी पाउडर मिलाकर पीने से सिर दर्द में आराम मिलता है। दूध गर्म होना चाहिए।
  • ठंडे दूध में शहद मिलाकर पीने से भी सिर दर्द में राहत मिलती है।
  • एक गिलास पानी में दो चम्मच सेब का सिरका और दो चम्मच शहद मिलाकर पीयें।
  • अदरक वाली चाय पीयें, इससे सिर दर्द में जल्दी आराम मिलेगा.
  • स्वस्थ आहार ले, पौष्टिक भोजन करें और जूस पीयें।
  • ज्यादा से ज्यादा आराम करें, तनाव ना ले और पर्याप्त नींद ले।
  • थोड़ी बहुत सैर करें, घुमने जाए, अच्छा सोचे और अच्छा खाएं।
ये भी पढ़े:  गर्भावस्था में गैस होने के कारण और बचाव के उपाय
Previous Post
गर्भावस्था में गैस
गर्भावस्था

गर्भावस्था में गैस होने के कारण और बचाव के उपाय

Next Post
गर्भावस्था में सेक्स
गर्भावस्था

गर्भावस्था में सेक्स करने के टिप्स और फायदे

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *