कैसे करे सेक्स कि प्रेग्नेंट ना हो? क्या है प्रेगनेंसी रोकने के घरेलु उपचार?

कोई भी नवयुगल शादी होने के तुरन्त बाद बच्चा नही चाहता। शुरुआती समय पूरी तरह रोमांस से भरा होता है, ऐसे में कोई भी कपल बच्चे की जिम्मेदारी लेने से बचता है। इसके अलावा भी बच्चा ना चाहने के कई कारण हो सकते है। जैसे एक बच्चा होने के बाद दूसरे बच्चे में अंतराल रखना या आर्थिक स्थिति का कमजोर होना। कभी कभी प्रोफेशनली कोई अवसर होता है जो लाइफ चेंजिंग होता है, जिसे छोड़ना मुश्किल होता है। ऐसे में हर जोड़ा यही चाहता है प्रेग्नेंसी रोकने के घरेलू तरीको का इस्तेमाल कर सेक्स का पूरा आनंद उठा सके। आईए आपको बताते है कुछ घरेलू तरीके जो आपकी मदद कर सकते है।

प्राकृतिक तरीके

1-सेक्स की पोजीशन

प्रेगनेंसी रोकने के घरेलू तरीको में इसे भी आजमा सकते है, इसके लिए महिला सेक्स के तुरन्त बाद लेटी ना रहे, वो तुरन्त खड़ी हो जाए और पानी से वेजिना को अच्छी तरह अंदर तक साफ करें और कोई भी गर्म तासीर वाले पदार्थ का सेवन कर ले। हल्दी का दूध या करेले का रस भी पिया जा सकता है।

ये भी पढ़े:  अनियमित मासिक धर्म क्यों और क्या है उपाय

सेक्स के बाद क्या कर सकते है

आफ्टर सेक्स क्या करे कि प्रेग्नेंट ना हो तो इसके लिए महिला सेक्स के तुरन्त बाद लेटी ना रहे, वो खड़ी हो जाए और योनि को अच्छी तरह अंदर तक साफ करें और किसी गर्म चीज़ का सेवन करे। आप हल्दी का दूध या करेले का रस पी सकती है।

इसके अलावा प्रेग्नेंसी रोकने के घरेलू तरीके निम्न है।

1-कैलेंडर पर नजर रखे

माहवारी पर नजर रखना भी प्रेग्नेंसी रोकने का एक घरेलू तरीका है। वो कैसे? बताते है।
इसके लिए महिला को अपनी माहवारी की तिथि के अनुसार ओवुलेशन पीरियड का अंदाजा लगाना होता है। जोकि पीरियड शुरू होने के 14 दिन पहले होता है, इस समय पर सेक्स से बचें।

2-शरीर का तापमान

ऐसा मानते है कि ओवुलेशन के एक खास समय पर शरीर के तापमान से भी पता लगा सकते है की सेक्स नही करना है। इसके लिए महिला रोज अपना टेम्परेचर नापती है और उसी के आधार पर निर्णय लेते है कि सेक्स करना है या नही। हाई ओवुलेशन पीरियड में बॉडी टेम्परेचर आधा से एक डिग्री बढ़ जाता है।

3-आउटर कोर्स

इस तरीके में पुरुष चरम सुख होने से पहले ही सयंम बरत लेते है और सेक्स करना बंद कर देते है। ये सभी तरीके बिना साइड इफ़ेक्ट के होते है लेकिन 100% सेफ नही होते,  इन्हें इस्तेमाल करने के बाद भी प्रेग्नेंसी की संभावना बनी रहती है।

4-कच्चा पपीता

सेक्स के बाद कम से कम 2 दिन तक कच्चा पपीता खाए। इसमे कुछ ऐसे तत्व होते है जो गर्भधारण को रोकते है। जैसे इसमे पाया जाने वाला पेपैन तत्व जो प्रोजेस्ट्रोन के उत्पादन को रोक देता है और बिना प्रोजेस्ट्रोन के प्रेग्नेंसी नही हो सकती।

ये भी पढ़े:  क्या है प्रेगनेंसी से बचने के उपाय?

5-इलायची

सेक्स के बाद इलायची को पीस ले और शहद के साथ मिलाकर खा ले।

6-विटामिन C

सेक्स के बाद ज्यादा से ज्याद विटामिन सी युक्त पदार्थो का सेवन करे।

7-गर्म पानी

सम्भोग के बाद से लेकर कम से कम 2 दिन तक प्यास लगने पर गर्म पानी पीए।

8-तिल

इस प्रयोग में आप तिलों को भून का पीस कर आम शीशी में भर कर बेडरूम में रख ले। सेक्स के बाद वेजिना को अच्छे से साफ करके तुरन्त एक चम्मच पिसा तिल खा ले।  इसे 3 दिन तक शहद में मिलाकर भी खा सकते है।

9-ग्रीन टी

आपने देखा होगा कई बार किसी किसी कम्पनी के ग्रीन टी के पैकेट पर लिखा होता है गर्भवती महिलाओं के लिए नही। इसलिए सेक्स करने के दिन से लेकर एक हफ्ते तक आप दिन में कम से कम तीन बार इसका सेवन करे।

10-पुदीना

पुदीने की चटनी बनाये,कच्चा खाएं, चाय बनाए या पुदीने का तेल इस्तेमाल करे।

11-बबूल के पत्ते

थोड़े से बबूल के पत्ते 2 कप पानी मे उबाल ले, फिर इस पानी को छानकर पी ले।

11-सोयाबीन

सोयाबीन के दानों को रात को भिगो ले और सुबह खाली पेट पानी के साथ इसका सेवन करे।

13-दालचीनी

दालचीनी का खूब सेवन करे,चाहे तो पिसी दालचीनी को पानी के साथ फांक ले या साबुत दालचीनी को पानी मे उबालकर उस पानी को पिए।

14-गाजर के बीज

गाजर की बीज बहुत ही ज्यादा गर्म माने जाते है। एक चम्मच गाजर के बीज को पानी के साथ खाए।

15-गर्भ गिराने की पिल

ये गोलियां मार्किट में आसानी से उपलब्ध है इन्हें सम्बन्ध बनाने के 72 घण्टे के अंदर ले लिया जाता है। लेकिन इनके बहुत साइड इफ़ेक्ट होते है। तो बिना डॉक्टरी सलाह के ये गोलियां बिल्कुल ना ले।

ये भी पढ़े:  गर्भावस्था में एक्यूप्रेशर Acupressure points for pregnancy

16-कोहोश

ये एक आयुर्वेदिक औषधि होती है जो काले और नीले रंग में उपलब्ध होती है। इनमें पाए जाने वाले तत्व जैसे कॉलसोस्पोनीन और ऑक्सिटोसिन गर्भधारण नही होने देते।

17-मगवॉर्ट

इस आयुर्वेदिक औषधि की ताजा पत्तियां ले, पानी मे उबालकर, छानकर पी ले।

18-कलौंजी

गर्भपात के लिए कलौंजी के बीज का प्रयोग करे, चाहे तो आप ऐसे ही एक चम्मच कलौंजी पानी से सटक ले। या इसकी चाय बना कर भी ले सकती है।

19-एस्पिरिन

एस्पिरिन की 6 से 8 टेबलेट रोज खाये, साथ मे दूसरे उपाय भी जारी रखे।

20-तुलसी

तुलसी के पत्तो की तासीर बहुत गर्म होती है, तो 4 से 5 तुलसी की पत्तियां खा ले।

21- लहसुन

सुबह उठकर खाली पेट लहसुन की कच्ची कलियां चबाकर पानी पी ले।

22-अजमोद

अजमोद के पत्ते का पेस्ट या सूखी पत्तियों का पाउडर बनाकर यूज करें।

23- प्याज का रस

सेक्स से पहले योनि में प्याज का रस मले।

24- सीताफल के बीज

सीताफल के बीजों को पीसकर योनि में मलने से सफाई भी हो जाती है और गर्भ भी नही ठहरता।






ये सभी उपयोग सम्बन्ध बनाने के तुरन्त बाद करने चाहिए।

1 Shares

Leave a comment