गर्भावस्था का दूसरा महीना

गर्भावस्था का दूसरा महीना – सिम्पटम्स ऑफ प्रेगनेंसी

जिस तरह 1st month की प्रेगनेंसी में कुछ अलग एहसास हुए उसी तरह  2nd month of pregnancy symptoms भी बहुत रोचक होते हैं ।  गर्भावस्था का पहले महीने में आपने महसूस किया होगा कि गर्भवती होना आपके जीवन में आपके द्वारा किए गए किसी भी अन्य अनुभव से अलग है। न केवल शरीर बदलता है, बल्कि मन और आत्मा भी एक परिवर्तन से गुजरते हैं। आपका शरीर एक बढ़ते बच्चे को अपने अंदर समेटने के लिए कई बदलावों से गुजरता है। वास्तव में, आप उन सभी परिवर्तनों का अनुभव करेंगे जो आपने पिछले महीने भी अनुभव किए थे और साथ ही आप कुछ नए बदलाव भी अनुभव करेंगे। गर्भावस्था का दूसरा महीना पहले से भी जयदा रोचक होने वाला है । 2 महीने की प्रेगनेंसी के ये लक्षण अधिकांश रूप से सामान्य हैं:

गर्भावस्था का दूसरा महीना – 2 Month Pregnancy Symptoms

  • गर्भावस्था में जीं मचलना
  • गर्भावस्था में स्तनों में सूजन
  • गर्भावस्था में रक्तस्राव
  • पेशाब करने की इच्छा में वृद्धि
  • गर्भावस्था में थकान
  • गर्भावस्था में पेट में ऐंठन
  • गर्भावस्था में कब्ज
ये भी पढ़े:  घर पर कैसे पता करें कि आप गर्भवती हैं?

ये सभी 2 month Pregnancy के सुखद लक्षण नहीं हैं, वे गर्भवती होने का एक सामान्य हिस्सा हैं और आप केवल उनमें से कुछ का अनुभव कर सकते हैं।

कैसे बीतेगा गर्भावस्था का दूसरा महीना

मॉर्निंग सिकनेस

गर्भावस्था में उल्टी और मतली सामान्य लक्षण हैं और लगभग 85% महिलाओं को ये लक्षण होते है। गर्भावस्था के दूसरे महीना में आप मॉर्निंग सिकनेस अनुभव कर सकते हैं। हालांकि मॉर्निंग सिकनेस अक्सर सुबह में होती है ,और ये गर्भावस्था की पहली तिमाही में ज्यादा होती है ।  पर यह मतली और उल्टी वास्तव में दिन के किसी भी समय शुरू हो जाती है। कई महिलाओं को मॉर्निंग सिकनेस प्रेगनेंसी के दूसरी तिमाही में कम हो जाती है। हालांकि मतली का आपके स्वास्थ्य या बच्चे के स्वास्थ्य पर शून्य प्रभाव पड़ता है, लेकिन यह आपके जीवन को और आपकी दिनचर्या को प्रभावित कर सकता है। मॉर्निंग सिकनेस से निपटने के लिए संतुलित आहार ले, मसालेदार भोजन से दूर रहें। आराम करें और हाइड्रेटेड रहें। आप चाहे तो अपनी डॉक्टर से second month of pregnancy diet Chart भी ले सकती है।

ये भी पढ़े: Second Month Of Pregnancy Diet

स्तनों में सूजन – ब्रेस्ट में दर्द

स्तनों में सूजन
स्तनों में सूजन

संवेदनशील और कोमल स्तन आपके गर्भवती होने के उन शुरुआती संकेतों में से हैं जो आपने महसूस किये थे। वैसे तो महिलाओं की छाती में अक्सर थोड़ा बहुत दर्द पीरियड्स के दौरान होता ही हैं परन्तु गर्भावस्था में स्तनों में सूजन व दर्द होना आम बात है। गर्भावस्था में ज्यादातर महिलाओं को तीन चीजों की शिकायत होती है । ब्रेस्ट में दर्द होना उन से एक है जिसके साथ में मितली और थकान महसूस होती है। प्रेगनेंसी के पहले ट्राइमेस्टर के बाद ये दर्द कुछ कम होने की संभावना है। पर यह जरूरी नहीं कि दर्द पूरी तरह से अंत हो।

ये भी पढ़े:  क्या गर्भावस्था में सांस फूलने से हो सकता है बच्चे को कुछ नुक्सान?

गर्भावस्था में रक्तस्राव – हल्का रक्तस्राव

 

Bledding During pregnancy
Bleeding During pregnancy

गर्भावस्था के दौरान ब्राउन डिस्चार्ज गर्भवती महिलाओं द्वारा रिपोर्ट की जाने वाली एक सामान्य घटना है। विभिन्न कारणों से गर्भावस्था में रक्तस्राव हो सकता है। यह रक्तस्राव काफ़ी हल्का होता है और रक्त का रंग भी गुलाबी या हल्का भूरा होता है। यदि आपको पेट में ऐंठन के साथ या पेट में ऐंठन बिना गंभीर रक्तस्राव या मोटा डिस्चार्ज है और अजीब तरह की बदबू आ रही है, तो डॉक्टर से संपर्क करें। ये संक्रमण के लक्षण भी हो सकते है इन्हे नज़रंदाज़ ना करे और तुरंत ही अपने डॉक्टर को संपर्क करे।

गर्भावस्था में पेशाब करने की इच्छा में वृद्धि

गर्भावस्था में बार-बार पेशाब आना
गर्भावस्था में बार-बार पेशाब आना

गर्भावस्था में किसी भी महिला की पेशाब करने की इच्छा में वृद्धि हो जाती है जिस कारण आपको बार बार और कई बार लगातार टॉयलेट जाना पड़ सकता है। प्रारंभिक गर्भावस्था के दौरान बार-बार पेशाब आना हार्मोन से संबंधित है। यह स्थिति आपकी गर्भावस्था के अंत तक रहेगी हालांकि इसके कारण भिन्न हो सकते हैं। इसके लिए जरूरी है कि आप पर्याप्त मात्रा में पानी पिएं। क्योंकि आपको बार बार टॉयलेट जाना पड़ता है इस कारण वश तरल पदार्थों में कटौती न करें। गर्भावस्था में हाइड्रेटेड रहना बहुत जरुरी है। सोने से पहले तरल पदार्थ का सेवन कम करे। कैफीनयुक्त पेय ना ले।

गर्भावस्था में थकान – गर्भवती की शारीरिक कमजोरी

गर्भवती की शारीरिक कमजोरी
गर्भवती की शारीरिक कमजोरी

गर्भावस्था के दौरान थकान एक सामान्य लक्षण है। कुछ महिलाओं को गर्भावस्था के दौरान थकावट महसूस हो सकती है, जबकि कुछ को शायद ही कोई थकान महसूस हो। हालंकि अधिकांश महिलाएं अपनी गर्भावस्था के दौरान सामान्य से अधिक थका हुआ महसूस करती है। गर्भावस्था के पहली तिमाही के दौरान थकान बहुत आम है। दूसरी तिमाही में थकान कुछ कम हो जाती है, लेकिन आमतौर पर तीसरी तिमाही में आप ज्यादा थकान महसूस करती है। माँ के शरीर को बच्चा पैदा करने के लिए बहुत अधिक ऊर्जा की आवश्यकता होती है। इसलिए सुनिश्चित करें कि आप बहुत आराम करें और अधिक समय तक सोने की कोशिश करें। यदि संभव हो तो घरेलू कामों के लिए परिवार के सदस्यों की मदद लें।

पेट में ऐंठन

garbhavastha me pet dard
garbhavastha me pet dard

गर्भावस्था में पेट में ऐंठन सामान्य है। गर्भाशय के विस्तार के कारण आप पेट में ऐंठन महसूस करती है। यदि आपकी ऐंठन गंभीर है, तो अपने डॉक्टर को बताएं।

ये भी पढ़े —> गर्भावस्था के दौरान पेट दर्द के कारण और उपाय 

गर्भावस्था मे कब्ज के लक्षण – कब्ज कैसे दूर करे

garbhavastha me kabj
garbhavastha me kabj

यदि आपको टॉयलेट जाने में परेशानी हो रही है, तो आप अकेले नहीं हैं। गर्भावस्था के दौरान 50 प्रतिशत से अधिक महिलाएँ कब्ज की शिकायत करती है। कब्ज से बचने के लिए खूब सारा पानी पिएं, फाइबर युक्त फल और सब्जियाँ खाएँ और खूब सैर करें। गर्भावस्था में कब्ज के लिए योगासन करना भी अच्छा रहता है परन्तु ध्यान पूर्वक । यदि आप अभी भी ठीक नहीं हैं, तो अन्य उपायों के बारे में अपने डॉक्टर से बात करें।

ये भी पढ़े कब्ज कैसे दूर करे

Leave a Comment