अनवांटेड 72

अनवांटेड 72 – अनचाहे गर्भ से बचने का आसान तरीका

गर्भपात की गोलियां

मार्केट में कई इमरजेंसी गर्भनिरोधक टेबलेट उपलब्ध है। जिसे प्रेग्नेंसी अवॉइड टेबलेट भी कहा जा सकता है। जो प्रेस्क्रिप्शन के बिना ओवर द काउंटर मिलती है। अनवांटेड 72 इन में से एक है।
यह दवा गर्भावस्था को रोकने में मदद करती है। जो प्रेग्नेंसी ना होने के उपाय के तौर पर उपयुक्त है। इसका उपयोग एक आपातकालीन गर्भनिरोधक के रूप में किया जाता है। अनवांटेड 72 इमरजेंसी गर्भनिरोधक का एक सुरक्षित तरीका है।
जो कि प्रेग्नेंसी रोकने के घरेलू उपाय से ज्यादा प्रभावशाली है। इस गोली का कार्य तंत्र यह है कि यह ओव्यूलेशन को रोकता है। और इस प्रकार अंडे को फर्टिलाइजेशन से बचाता है।
यह टैबलेट मेनकाइन्ड फार्मा कंपनी की है। जो कि दवा उद्योग में गुणवत्ता के अनुसार भारत में मानक है।

क्या है अनवांटेड 72?

अनवांटेड 72 कंपोजिशन – यह 0.75 MG टैबलेट प्रोजेस्टिन की श्रेणी से संबंधित है। आपातकालीन गर्भनिरोधक के रूप में असुरक्षित संभोग के 72 घंटों के भीतर इसे लिया जा सकता है। ओवर द काउंटर दवा होने की वजह से इस के बारे में पूरी जानकारी आवश्यक है। इस लेख में हमने गोली के संबंध में आपके मन में मौजूद सभी संदेहों और सवालों के जवाब देने की कोशिश की है।

अनवांटेड 72 कैसे काम करती है?

अनवांटेड 72 में लेवोनोर्गेस्ट्रेल की एक रासायनिक संरचना है। इसे भोजन के बाद पानी के साथ लेना है। इसे सुबह या दिन के किसी विशेष समय पर लेना आवश्यक नहीं है। लेकिन, इसे असुरक्षित यौन संभोग के 24 घंटे के भीतर लेना सबसे असरदार माना जाता है। अनवांटेड 72 में उच्च मात्रा में एक हार्मोन होता है। जो गर्भ ठहरने की विधि को रोकता है। यह हार्मोन LH (ल्यूटिनाइजिंग हार्मोन) और FSH ( follicular stimulating hormone) को निष्क्रिय करता है। जो गर्भाशय के लाइनिंग को फर्टिलाइज अंडे और ओवुलेशन के आरोपण के लिए प्रतिकूल बनाता है। यह अनप्रोटेक्टेड सेक्स के बाद गर्भावस्था को रोक कर काम करता है। फर्टिलाइजेशन के बाद गर्भधारण होने में तीन दिन (72 घंटे) लगते हैं। यही वह समय है जब गोली गर्भधारण होने से रोकती है।

ये भी पढ़े:  प्रेग्नेंट है या नहीं जानिए इन गर्भ ठहरने के लक्षण से

अनवांटेड किट ब्लीडिंग टाइम: गोली लेने के बाद होने वाले रक्तस्राव को विदड्रॉल ब्लीडिंग कहा जाता है। एक बार जब रक्तस्राव होता है, तो यह निश्चित है कि गर्भावस्था को रोका गया है।
यह पहले से हुई अनवांटेड प्रेग्नेंसी को समाप्त नहीं करती है, या गर्भपात नहीं करती है। यह आपके डॉक्टर द्वारा प्रेस्क्राइब मेडिसिन के रूप में या दवा पर दिए गए निर्देश के अनुसार समय सीमा में लेना महत्वपूर्ण है।

अनवांटेड 72 असुरक्षित संभोग के बाद 0 से 24 घंटे में 90 से 95% असर करती है। 25 से 48 घंटे के बाद 85% असरदार है। और 49 से 72 घंटे के बाद 58% असर करती है। 72 घंटों के बाद अनवांटेड 72 का प्रभाव लगभग शून्य है।
अनवांटेड 72 लेने के तीन घंटे के भीतर उल्टी होने के मामले में, यह काम नहीं करती। और एक और टैबलेट दोहराया जाता है।

अनवांटेड 72 टैबलेट उपयोग कैसे करें?

अनवांटेड 72 टैबलेट को सबसे प्रभावी होने के लिए असुरक्षित संभोग के 72 घंटे के भीतर लिया जाना चाहिए। जो असुरक्षित यौन संबंध के मामले में गर्भावस्था को रोकना सुनिश्चित करता है।
नियमित ओरल गर्भनिरोधक गोलियों (Oral contraceptive pills) को भूल जाने पर आप असुरक्षित संभोग के बाद इसका प्रयोग कर सकते है।
कंडोम के टूटने या खिसकने के मामले में आप इसे उपयोग में ले सकते है।
जबरन संभोग या बलात्कार के मामले में गर्भावस्था को टालने के लिए इसका प्रयोग किया जाता है।

अनवांटेड 72 के लाभ

आपातकालीन गर्भनिरोधक गोलियों का मुख्य लाभ उन्हें ओवर-द-काउंटर प्राप्त करने की अपनी सुविधा है। इस कारण अनवांटेड 72 काफी लोकप्रिय हैं। गर्भावस्था को रोकने में असरदार के साथ आसानी से उपलब्ध है। इससे गोपनीयता भी रहती है। और यह ऐसे संभोग की घटना के लिए उपयुक्त है जहां कोई सुरक्षा की योजना नहीं बनाई गई थी।

ये भी पढ़े:  Pregnancy Announcement Quotes

अनवांटेड 72 के सामान्य साइड इफेक्ट्स

अनवांटेड 72 के साइड इफेक्ट साधारण है। आम साइड इफेक्ट में हार्मोनल असंतुलन, पेट में दर्द, मतली, उल्टी, मासिक धर्म अनियमितता, स्तन टेंडरनेस, मूड स्विंग, चक्कर आना और थकान शामिल हैं।
यह हर रोज़ उपयोग करने वाला गर्भनिरोधक तरीका नहीं है। यदि अनवांटेड 72 को लंबे समय तक नियमित रूप से लिया जाए तो साइड इफेक्ट हो सकते है। जिसमे अनियमित पीरियड्स, त्वचा की एलर्जी, होंठों, जीभ, पलकों, हाथों और पैरों की सूजन, अस्थानिक गर्भावस्था, बालों का झड़ना, कान, नाक और गले, अंडाशय का इंफेक्शन और हार्मोन में क्षति या असंतुलन शामिल हैं।

यह भी संभव है कि कुछ दवाएं जो आप ले रहे हों, वे अनवांटेड 72 लेते समय प्रतिकार कर सकती हैं। इस प्रकार एक या दोनों दवाओं का प्रभाव कम हो सकता है। ग्रिसोफुल्विन, बार्बिट्यूरेट्स, कार्बामाज़ेपिन, आदि ऐसी दवाएं है जो अनवांटेड 72 के साथ इंटरैक्ट करती है। इसलिए, ऐसे किस्से में अपने चिकित्सक से परामर्श करना हमेशा बेहतर होता है।
पीरियड्स पर साइड-इफेक्ट्स: अनवांटेड 72 से पीरियड्स में भारी देरी, भारी ब्लीडिंग और पीरियड्स के बीच स्पॉटिंग हो सकती हैं। भारी रक्तस्राव के साथ दर्द भी हो सकता है।

अनवांटेड 72 के उपयोग की चेतावनि!

यदि आप पहले से ही गर्भवती हैं तो अनवांटेड 72 न लें।
यह ध्यान दिया जाना चाहिए कि किसी भी प्रकार का प्रेग्नेंसी रोकने के उपाय के तौर पर 100% असरदार नहीं है।
यह सलाह दी जाती है कि अनवांटेड 72 को छह महीने की अवधि में उन्हें दो बार से अधिक न लें।

इसके अलावा, यह ध्यान रखना महत्वपूर्ण है कि अनवांटेड 72 प्रेग्नेंसी रोकने की दवाई है। यह यौन संचारित रोग (sexually transmitted disease)से सुरक्षा प्रदान नहीं करता है।
कंडोम, ओरल गर्भनिरोधक गोलियां (Oral contraceptive pills) आदि परिवार नियोजन के तरीके है। जो दीर्घकालिक और विश्वसनीय भी है।
असुरक्षित सेक्स एक बहुत सेंसिटिव विषय है। जब आपको कोई संदेह हो कि प्रेग्नेंसी से कैसे बचें? तो जानकारी लेने के लिए अपने गायनिक या फैमिली डॉक्टर से बात करे। अनचाहे गर्भ से बचने के उपाय के तौर पर आप ऑनलाइन चिकित्सा प्लेटफार्मों की मदद भी सकती है। यह बहुत आसान और गोपनीय तरीका है।

ये भी पढ़े:  बच्चे का रंग गोरा करने का तरीका
टैग्स:
Previous Post
शरीर में खून की कमी
घरेलु उपचार

शरीर में खून की कमी को दूर करें इन खून बढ़ाने के उपाय से

Next Post
खून की कमी के लक्षण
गर्भावस्था

खून की कमी के लक्षण कोनसे होते है ?

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *