प्रेग्नेंट होने के लिए क्या करें – pregnant hone ke upaye

शादी के बाद सबसे बड़ा पड़ाव होता है माता पिता बनना, ऐसे में यदि इस पड़ाव को पाने के लिए आपको जद्दोजहद करनी पड़े और फिर भी सन्तान ना मिले तो उस दुख की कल्पना नही की जा सकती।
ऐसे में जरूरी है कुछ बातों का ध्यान रखना, आइये आपको बताते है प्रेग्नेंट होने के उपाय

1-सम्पूर्ण जाँच

सबसे पहली और जरूरी बात है की आप डॉक्टर से मिल कर अपनी व अपने पति की सम्पूर्ण जाँच कराए, यदि निम्नलिखित में से कोई भी समस्या हो उसका इलाज कराए। ज्यादातर महिलाओ को निम्न कारणों से माँ बनने में परेशानी होती है।






  • अनियमित माहवारी
  • पॉलीसिस्टिक ओवेरियन सिंड्रोम और पोलिसिस्टिक ओवेरियन डिजिज
  • थाइरोइड
  • एंडोमेट्रिओसिस
  • ओवुलेशन सम्बन्धी दिक्कते
  • फेलोपियन ट्यूब में समस्या का होना
  • अंडे से जुड़ी समस्या
  • हॉर्मोन जैसे प्रोजेस्ट्रोन की कमी
  • सर्विक्स इन्फेक्शन
  • पुरुष में शुक्राणुओं की कम मात्रा, खराब क्वालिटी, कमजोर होना
  • पुरुषो में कोई भी जन्मजात दोष होना, वीर्य नलिका का बन्द होना

2-सेक्स से सम्बंधित

-सेक्स कितना करे

जरूरत से ज्यादा सेक्स करना प्रेग्नेंट होने की गारंटी नही है, बल्कि इससे होगा ये की पुरुष को कमजोरी और चक्कर महसूस होने लगेंगे। ज्यादा सेक्स करने से मन भी ऊब जाएगा, तो बेहतर ये है कि आप सही टाइम पर सेक्स करें। जैसे महिलाए अपने ओवुलेशन पीरियड के दौरान सेक्स करें खासकर सुबह के टाइम।

ये भी पढ़े:  प्रेगनेंसी में कैसे सोये - Pregnancy me sone ke tarike

-सेक्स कैसे करें

सेक्स के दौरान स्त्री नीचे हो व पुरुष ऊपर, स्टैंडिंग पोजीशन या अनाल सेक्स ना करें। केवल मशीन की तरह सम्बन्ध ना बनाए एक दूसरे को महसूस करे, प्यार करें। सेक्स के तुरन्त बाद स्त्री खड़े होकर यूरिन ना पास करे, ना ही योनि को पानी से साफ करें,सेक्स के बाद कुछ देर लेटी रहे। किसी भी प्रकार ले लुब्रिकेंट का इस्तेमाल ना करें, इससे स्पर्म की स्पीड प्रभावित होती है।

3-तनाव ना ले

तनाव को इग्नोर किया जाता है लेकिन यही माँ बनने में बहुत बड़ा रोड़ा है। जब आप तनाव में होती है तो ब्रेन के बहुत ही इम्पोर्टेमत पार्ट हाइपोथैलेमस तथा पिट्यूटरी ग्लैंड पर बुरा प्रभाव पड़ता है। यही दोनो थाइरोइड, एड्रिनल तथा ओवरी को नियंत्रित करती है। इसी कारण तनाव माँ बनने की चाह पूरी नहीं होने देता।

4-देर से बच्चे की प्लानिंग ना करे

शादी के बाद कई बार कपल जॉब, कैरियर के कारण बेबी प्लान नही करते। उम्र ज्यादा होने पर स्त्री पुरुष दोनों की प्रजनन क्षमता पर तो फर्क पड़ता ही है साथ ही ज्यादा उम्र में होने वाले बच्चे में विसंगति के बहुत चांसेस होते है।

5-सही फिटिंग के अंतःवस्त्र पहने

स्त्री हो या पुरुष ज्यादा कसे हुए अंतःवस्त्र पहनने से प्रजनन क्षमता पर असर पड़ता है। क्योंकि गुप्तांगों को हवा नही मिल पाती, संक्रमण होने की सम्भावना भी बढ़ जाती।

6-भरपूर नींद ले

सोने से एक घण्टे पहले सभी इलेक्ट्रॉनिक गैजेट ,,खुद से दूर कर दे, जल्दी सोने की कोशिश करे। नींद पूरी ना होने से प्रतिरोधक क्षमता कम हो जाएगी और विभिन्न प्रकार के इन्फेक्शन जकड़ लेंगे।

ये भी पढ़े:  क्यों हो जाता है गर्भ मे उल्टा बच्चा

7-शराब, सिगरेट, तंबाकू का सेवन

इन सब चीज़ों के सेवन से स्पर्म तथा एग बनाने वाली सेल नष्ट होने लगती है। स्पर्म की क्वालिटी खराब होती है।

इसके अलावा कुछ अन्य कारण है जो माँ बनने में बाधक है वो है वजन का सामान्य से अधिक कम या ज्यादा होना, खराब लाइफ स्टाइल, प्रदूषण या प्रदूषक पदार्थो का इस्तेमाल, अनहैल्थी भोजन, बहुत ज्यादा रेडिएशन वाली चीज़ों का इस्तेमाल जैसे फोन या वाई फाई। इनका उपाय यही है कि जीवन शैली सुधारे जिससे जल्द से जल्द आप सन्तान सुख पा सके।

Leave a Comment