क्या है प्रेगनेंसी न होने के उपाय?

शादी के तुरन्त बाद अड़ोसी पड़ोसी रिश्तेदार गुड़ न्यूज़ की आस लगा लेते है। बल्कि कई बार तो परिवार भी जल्द से जल्द परिवार आगे बढ़ाने के लिए दबाव डालने लगता है। लेकिन नया शादी शुदा जोड़ा बच्चे के लिए इतनी जल्दी तैयार नही होता और ऐसे में प्रेग्नेंसी ना होने उपायों की छानबीन करता है।
तो आइये हम आपको बताते है प्रेग्नेंसी ना होने के उपाय ।

प्रेग्नेंट न होने के उपाय

1-नीम

बहुत पुराने समय से नीम को गर्भनिरोधक के रूप में प्रयोग किया जाता रहा है। नीम के तेल को योनि में लगाकर सेक्स करने से अथवा नीम तेल के कैप्सूल का सेवन करने से गर्भ ठहरने की संभावना कम हो जाती है।

2-हल्दी

हल्दी की साबुत गांठ लेकर पीस कर रख ले और सेक्स के तुरन्त बाद एक गिलास पानी से फांक ले। इसमे उपस्थित करक्यूमिन नाम का तत्व स्पर्म की गति को प्रभावित करता है।

3-अरंडी

अरंडी के बीज के अंदर एक सफेद रंग का छोटा बीज होता है। इसका सम्भोग के 72 घण्टे के अंदर सेवन करे, इसका असर एक महीने तक रहता है।

4-आँवला

5-पुदीना

गर्भ रोकने के लिए पुदीने की चटनी बनाकर खाए अथवा चाय बनाकर भी ले सकते है। सेक्स के तुरन्त बाद एक चम्मच सूखे हुए पुदीने पाउडर को एक गिलास पानी से ले ले।

6-केले की जड़

केले का ऐसा पौधा ढूंढे जिसमे कोई फल ना आता हो, उसकी जड़ को अच्छे से सुखा कर पीस ले। इस चूर्ण को 4 से 5 ग्राम की मात्रा में भोजन में किसी भी प्रकार से ले सकते है।

7-चंपा के फूल

चंपा के फूलों को लेकर छाया मे सुखाकर पाउडर बना ले, इस चूर्ण का सेवन गर्भवती ना होने में आपकी मदद करेगा।

8-प्याज का रस

सम्भोग करते समय योनि में प्याज का रस लगाने से गर्भधारण की संभावना बहुत कम हो जाती है।

9-शहद

संभोग से पहले यदि महिला अपनी योनि में शहद मल ले तो स्पर्म्स की गति कम हो जाती है जिससे गर्भधारण की संभावना कम हो जाती है।

10-तुलसी

तुलसी के पत्ते ले, उन्हें अच्छे से धोकर पानी मे उबलने के लिए रख दे, 10 मिनट उबलने के बाद छानकर रख ले। इस काढ़े को माहवारी के दौरान, माहवारी समाप्त होने पर या सेक्स के तुरंत बाद पिये। इसके अलावा सम्भोग के तुरन्त बाद तुलसी की पत्तियों को चबा कर एक गिलास पानी पी ले। ऐसा करने से भी गर्भ ठहरने की संभावना नही रहती।

प्रेग्नेंट न होने के अन्य उपाय

  1. जब पुरुष चरम पर आने वाला होता है तो या तो वो सयंम बरत लेता है।
  2.  पुरुष स्पर्म निकलने से पहले ही अपने लिंग को योनि से बाहर निकाल लेता है।
  3. कॉन्डोम गर्भनिरोधन का सबसे सेफ और आसान उपाय है, आजकल मार्किट में एक्स्ट्रा थिन और डॉटेड कंडोम अवेलेबल है।
  4. पुरुष नसबंदी गर्भनिरोधक का 100% सेफ तरीका है इसमे सर्जरी द्वारा पुरुष की वेसकुलेचर को बंद कर दिया जाता है।
  5. गर्भनिरोधक गोली में दो टाइप होते है
  • कॉम्बिनेशन पिल को आप पीरियड के पहले दिन से लेना स्टार्ट कर सकती है।
    – अगर आपकी नॉर्मल डिलीवरी है तो कम से कम पिल लेने से पहले 3 हफ्ते का इंतजार करें।
    – अगर आपको ब्लड क्लोट्स की दिक्कत है या ब्रेस्ट फीडिंग करा रही है तो 6 हफ्ते इंतजार करें
    – गर्भपात के फौरन बाद लेना स्टार्ट कर सकती है।
    – पिल लेने का डेट और टाइम फिक्स रखे।
  • मिनी पिल को आप कभी भी लेना शुरू कर सकती हैं।
ये भी पढ़े:  गर्भावस्था में सेक्स करने के टिप्स और फायदे

प्रेगनेंसी न होने के तरीके

इन सभी तरीको को आजमाने से पहले डॉक्टर से भली प्रकार कंसल्ट करे ताकि आप अपने लिए गर्भवती ना होने के सही तरीके को चुन सके।

Leave a Comment